Saturday, 25 February 2017

गूगल में नौकरी पाने के लिए जरुरी है ये चार चीजे -

 
दुनिया में सबसे ज्यादा कमाई करने वाली सर्च इंजन गूगल में नौकरी पाने के लिए हर कोई उत्सुक रहता है ,अगर आपको ये पता नही कि गूगल में नौकरी के लिए क्या क्या करना पड़ता है ,तो आइये हम बताते है -
 
नौकरी पाने के लिए सबसे पहले जरुरी है यह चार चीजे -
 
१.  जेनेरल congenitive एबिलिटी यानि कि  केवल इंटेलिजेंस ही नही बल्कि सूचना को अपने में सम्मिलित करने की काबिलियत भी होनी चाहिए |
 
२. इमेर्जेंट लीडरशिप यानि कि जब कोई समस्या पैदा हो तो उसे खुद निपटने की समझ होनी चाहिए |
 
३.  कल्चरल फिट आपमें कूट कूट के भरी होनी चाहिए ,गूगल की भाषा में इसे गूगलिनेस कहते है |
 
४. जिस काम के लिए आपको नियुक्त किया जा रहा है उसमे एक्सेपेर्ट होना चाहिए |
 5000/- रूपये पाने के लिए  ये लिंक   goo.gl/wjjQFt    ओपन करके दिए गये स्टेप फॉलो करे |
 
अगर आपमें उपर बताये गये गुण है और आप IIT, कंप्यूटर साइंस ,मैकेनिकल इंजिनियर में से किसी एक में ग्रेजुएट है तो आप बिंदास गूगल में आवेदल कर सकते है |

देखिये गूगल का ऑफिस ,यहाँ मिलती है हर प्रकार की सुविधाए ..तस्वीर देखिये

 
20 लाख स्क्वायर फुट इलाके में फैले गूगल के इस ऑफिस को पूरी तरह इको फ्रेंडली तरीके से बनाया गया है। कैंपस में जगह-जगह थीम पार्क बनाए गए हैं, जहां कर्मचारी तफरीह कर सकते हैं। गूगलप्लेक्स के भीतर एक सीमा के बाद कार और गाड़ियों की आवाजाही पर रोक है। कर्मचारी या तो पैदल चलते हैं या फिर इन खूबसूरत साइकिलों का इस्तेमाल करते हैं। इन साइकिलों में गूगल के खास रंग और उनकी झलक साफ देखी जा सकती है।
5000/- रूपये पाने के लिए  ये लिंक   goo.gl/wjjQFt    ओपन करके दिए गये स्टेप फॉलो करे |


गूगलप्लेक्स के भीतर का नजारा तो और भी रंगीन है। जिधर नजर जाती है उधर रंग-बिरंगे वर्क स्टेशन नजर आते हैं। हर तरफ गूगल के खास रंगों की छाप दिखाई देती है। लेकिन गूगल को सिर्फ काम करने के चलते दुनिया का बेहतरीन वर्क प्लेस नहीं माना जाता, बल्कि गूगल को ये खिताब इसलिए मिला है क्योंकि कंपनी अपने कर्मचारियों को काम करने के साथ साथ तमाम सुविधाएं देती हैं। कहा जाता है कि दिल का रास्ता पेट से होकर गुजरता है, यानी किसी का दिल जीतना है तो उसे लजीज खाना खिलाओ और गूगल में कर्मचारियों के खाने-पीने का पूरा इंतजाम है, वो भी एकदम मुफ्त।
5000/- रूपये पाने के लिए  ये लिंक   goo.gl/wjjQFt    ओपन करके दिए गये स्टेप फॉलो करे |

गूगल ने दफ्तर के भीतर बेहद रंग-बिरंगा माहौल बना रखा है। हर डिपार्टमेंट में अलग तरह के फर्नीचर, अलग तरह की सजावट नजर आती है। कर्मचारियों का कहना है कि जब उन्होंने नौकरी शुरू की तो उन्हें लगा कि इन चीजों से ध्यान बंटता है लेकिन बाद में एहसास हुआ कि असल में इनसे काम का तनाव कम होता है। आप अपने मन पंसद के अनुसार संगीन सुन सकते हैं, इनडोर गेम खेलना चाहते हैं तो गूगल प्लेक्स में आपके लिए टेबल टेनिस, बिलियर्ड्स, वीडियो गेम, और बॉउलिंग एले जैसी सुविधाएं मौजूद हैं। अगर काम करके थक गए हैं तो मसाज भी करा सकते हैं।
5000/- रूपये पाने के लिए  ये लिंक   goo.gl/wjjQFt    ओपन करके दिए गये स्टेप फॉलो करे |

गूगल में काम करने का अलग ही अंदाज है। जमकर काम कीजिए, खूब मस्ती कीजिए... इस नारे की वजह से इस काम और मस्ती के इस कॉम्बिनेशन गूगल की दुनिया में गूगली कहा जाता है। यही गूगली कंपनी को काम करने के मामले में दुनिया की बेहतरीन कंपनी साबित करती हैं। यही वजह है कि कंपनी के कर्मचारी गूगल छोड़ना नहीं चाहते और जो गलती से छोड़ भी देते हैं उन्हें कोई और कंपनी रास नहीं आती।

बता दें कि दुनिया के 40 देशों में गूगल के 70 से ज्यादा दफ्तर हैं। कंपनी का कहना है कि हर दफ्तर का इंटीरियर और बनावट अलग और अपने आप में खास है। खास बात ये कि हर मुल्क के गूगल दफ्तर में वहां की संस्कृति और रीति रिवाजों की झलक दिखाई देती है।

खास बात ये है कि गूगल हेडक्वॉर्टर में काम करने वाले करीब 40 फीसदी कर्मचारी भारतीय या भारतीय मूल के हैं। कंपनी के सीईओ सुंदर पिचाई खुद भारतीय हैं और आईआईटी खड़गपुर से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है। ऐसे में सुंदर के सीईओ बनने के बाद गूगल में काम करने वाले भारतीय बेहद खुश हैं।
5000/- रूपये पाने के लिए  ये लिंक   goo.gl/wjjQFt    ओपन करके दिए गये स्टेप फॉलो करे |


Friday, 24 February 2017

Jio प्राइम ऑफर क्या है ? जिओ प्राइम मेम्बर बनने से क्या - क्या फायदा होगा , आइये हम बताते है -

 
हैल्लो फ्रेंड्स, आप सब के लिये एक बहुत बड़ी खुशखबरी है Reliance Jio ने 21 फरवरी को एक अधिकारिक घोषणा करके जिओ प्राइम ऑफर की लॉन्चिंग की है आज हम आपको बतायेंगे Jio प्राइम ऑफर क्या है व जिओ प्राइम मेंबर कैसे बने.

क्या है जिओ प्राइम ऑफर

Jio Prime Offer में जिओ के ग्राहकों को 31 मार्च 2018 तक अनलिमिटेड लोकल और STD कॉल्स सारी फ्री रहेंगी साथ ही साथ daily का 1 GB 4G इन्टरनेट मिलेगा जैसा की अभी Jio हैप्पी न्यू ईयर में मिल रहा है परंतु ये सारे फायदे आपको अब प्रतिमाह 303 रुपए देकर मिलेगा, यानी 1 महीने में 303 रुपय खर्च करने होंगे और इसका मतलब 10 रुपए रोजाना फिर आपका 1 साल तक सब कुछ अनलिमिटेड रहेगा.

दोस्तों ये बात तो आप पहले से ही जानते है रिलायंस जिओ इंडिया में पिछले सितम्बर 2016 से ग्राहकों को अपनी सर्विस बिलकुल फ्री में दे रहा है और 31 मार्च 2017 तक फ्री देगा, ये सब हैप्पी न्यू ईयर ऑफर के मुताबिक चल रहा है.

रिलायंस कंपनी के मालिक मुकेश अम्बानी ने मंगलवार को जिओ प्राइम ऑफर की घोषणा की साथ ही कहा पहले 100 मिलियन ग्राहक जिओ प्राइम ऑफर का लाभ अगले साल 31 मार्च 2018 तक उठा सकते है.

जिओ प्राइम ऑफर का लाभ लेने के लिये कस्टमर्स को एक बार 99 रुपए देकर Jio Prime Membership का रजिस्ट्रेशन करना होगा फिर उसके बाद 303 रुपए हर महीने यानी 10 रुपए रोजाना में आप एक साल तक जिओ प्राइम ऑफर का लाभ अनलिमिटेड ले सकेंगे.

जिओ प्राइम मेम्बरशिप के लिये रजिस्टर कैसे करे?

जो लोग अभी रिलायंस जिओ का सिम चला रहे है या जो लोग अभी जिओ का नया सिम लेने की सोच रहे है उनको 1 मार्च से 31 मार्च 2017 के बीच जिओ के मोबाइल एप्लीकेशन से या जिओ की वेबसाइट पर जाकर अपनी जिओ मेम्बरशिप के लिए रजिस्ट्रेशन करना होगा, जिओ प्राइम मेंबर बनने के लिये 99 रुपए का चार्ज देना होगा.

संक्षेप में बता देते है कैसे और क्या करना होगा जिओ प्राइम ऑफर और जिओ प्राइम मेम्बरशिप लेने के लिये-
1 – पुराने या नये ग्राहक जो जिओ का सिम इस्तेमाल कर रहे है उन्हें 1 मार्च से 31 मार्च 2017 के बीच Jio के मोबाइल एप्प या वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा.

2 – रजिस्ट्रेशन चार्ज एक बार देना होगा सिर्फ 99 रुपए.

3 – जब आपकी मेम्बरशिप कन्फर्म हो जायेगी फिर आप 31 मार्च 2018 तक हर महीने 303 रुपय देकर जिओ की सर्विस ले पायेंगे जो सुविधा अभी आप ले रहे वो सब वैसी की वैसी ही रहेंगी.

4 – इस तरह से आप Jio Prime Offer का लाभ ले सकेंगे.

500/- रूपये पाने के लिए   goo.gl/4QkjNy  ये लिंक ओपन करके दिए गये स्टेप फॉलो करे |

Tuesday, 21 February 2017

LED और LCD टीवी में क्‍या अंतर है? जानिये यहाँ

 
टीवी खरीदने से पहले एक बात पर हमेशा संशय बना रहता है कि कौन सा टीवी खरीदें, कभी लगता है बड़ा स्‍क्रीन साइज साइज ज्‍यादा बेहतर है तो कभी LED टीवी और LCD टीवी में अंतर नहीं समझ आता, अक्‍सर हम अपने पड़ोसी या फिर दुकानदार के कहने पर टीवी खरीद लेते है, मगर आज मैं आपको जानकारी दूंगा की एलसीडी और LED टीवी में क्‍या अंतर होता है ताकि अगली बार जब आप टीवी लेने जांए तो अपने बजट के अनुसार सहीं टीवी का चुनाव कर सकें।
 
LED और LCD में पहचान करने का सबसे अच्छा तरीका ये है कि उस टीवी को तिरछा करके कोई भी फोटो या विडियो देखे , अगर तिरछा करके देखने पर भी विडियो या फोटो स्पस्ट दिखाई दे रहा है तो वो LED है और तिरछा करने पर धुमला दिखाई दे तो वो टीवी LCD है |
 

 
एलसीडी टीवी
एलसीडी यानी लिक्‍विड क्रिस्‍टल डिस्‍प्‍ले (liquid crystal display), एलसीडी तकनीक में छोटे-छोटे लिक्‍विड सेल का प्रयोग किया जाता है जिनके बीच से लाइट गुजर कर एक पिक्‍चर क्रिएट करती है, एलसीडी डिस्‍प्‍ले में रेड, ग्रीन और ब्‍लू कलर का प्रयोग करते है, एलसीडी का प्रयोग मॉनिटर, टीवी, उपकरणों के पैनेल, तथा आम जिंदगी में प्रयोग होने वाले कई उपकरणों में किया जाता है। साधारण स्‍क्रीन के मुकाबले एलसीडी स्‍क्रीन हल्‍की और कम बिजली खपत करती है।



 
एलईडी टीवी- लिड यानी लिड बैकलिट डिस्‍प्‍ले (LED-backlit LCD display) यह एक तरीके का फ्लैट पैनल डिस्‍प्‍ले होता है लिड तकनीक का प्रयोग टीवी के अलावा नोटबुक, मोबाइल फोन, डीवीडी प्लेयर, वीडियो गेम और पी.डी.ए. आदि में किया जाता है। असल में लिड टेक्‍नालॉजी को एल.सी.डी. और सी.आर.टी तकनीक से कई गुना बेहतर माना जाता है, लिड बैकलिट डिस्‍प्‍ले कम उर्जा खपत तो करता ही है साथ में इसकी लाइफ भी अधिक होती है। लिड डिस्‍प्‍ले में कोल्‍ड कैथोड तकनीक पर काम करती है।

Sunday, 19 February 2017

युवाओ के लिए सुनहरा मौका : एक दिन में 2000 रूपये कमाए इन्हें आजमाकर

 
दोस्तों आज हम आप लोगो के लिए एक खुशखबर लेकर आये है , खबर यह है कि आप इनसे एक दिन में 2000 रूपये से भी ज्यादा कमा सकते सकते है | वो भी ऑनलाइन कुछ ही मिनटों में |
 
2000 रूपये कमाने के लिए आपको नीचे दी गई लिंक से एक एप्लीकेशन इनस्टॉल करना होगा |ये लिंक को कॉपी करके अपने ब्राउज़र में पेस्ट कर दे |
 
जब इस लिंक को ओपन करेंगे तो आप प्लेस्टोर में redirect हो जायेंगे और जो एप्लीकेशन दिखाई देगा उसे इनस्टॉल कर ले |
 
इनस्टॉल होने के बाद उसे ओपन कीजिये और पूछे गये जानकारी भरिये |
 
अब आगे बढ़ जाये अभी आपके वॉलेट में शून्य रूपये ही होगा | अब आपको वहां दिए गये कोई सा भी एक एप्लीकेशन जिसे आपने पहले कभी अपने मोबाइल पर इनस्टॉल नही किया है ,वो एप्लीकेशन इनस्टॉल करना है ,अब आपके वॉलेट में 20 रूपये आना शुरू हो गया है |
(ध्यान देवें = आपको ये एप्लीकेशन इनस्टॉल करने के बाद कम से कम एक एप्लीकेशन इनस्टॉल करना होगा |तभी आप सक्सेस हो पाएंगे |)
 
इस तरह से अनेक एप्लीकेशन इनस्टॉल कर सकते है | अगर ज्यादा कमाई करना है तो invite and earn में जाकर अपने फ्रेंड्स को इन्वाईट कर सकते है इससे हर इन्वाईट में 20 रूपये मिलते जायेंगे |
 
फिर आप चाहे तो कमाए गये बैलेंस को paytm में ट्रान्सफर कर सकते है या फिर मोबाइल रिचार्ज कर सकते है |
इस तरह से यदि आप एक दिन में लगभग 100  ज्वाइन करवाएंगे तो 100*20 = 2000 रूपये कमा सकते है और इसे paytm में ट्रान्सफर कर सकते है |
 
शुरू हो जाइये लिंक नीचे गयी है -

दुनिया की सबसे लम्बी कार, जिसके ऊपर हेलीकाप्टर भी लैंड हो जाता है,तस्वीर देखे

आप रोज ही कारों को सड़कों पर दौड़ते हुए देखते हैं और आपने ज़िन्दगी में हजारों छोटी बड़ी कारें देखी होंगी. लेकिन जैसी कार के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं वैसी शायद नहीं देखी होगी.

ये दुनिया की सबसे लम्बी कार है. सीधे सीधे कहें तो पूरे 100 फुट लम्बी. इसका नाम है The American Dream. यह दरअसल एक लिमोजिन है. लिमोजिन क्या होता है ये तो आप जानते होंगे ? फिर भी बता देते हैं कि लिमोजिन मर्सडीज या फोर्ड की तरह कोई ब्राण्ड नहीं है. यह दरअसल लक्ज़री कारों का एक क्लास है. आप किसी भी ब्रांड जैसे मर्सडीज या हमर की कार लेकर उसे कस्टमाइज करवा कर लिमोजिन बनवा सकते हैं.

बहरहाल हम बात कर रहे थे The American Dream की. ये दुनिया की सबसे लंबी (World’s longest car) लिमोजिन है और इसे बनाया है अमेरिका के जाने माने कार डिजाइनर जे ओरबर्ग (Jay Ohrberg) ने.

जैसा कि हमने आपको बताया कि यह 100 फुट लम्बी है. जब इतनी लम्बी है तो चार पहियों से तो काम चलेगा नहीं इसलिए इसमें 26 पहिये हैं.

तो साइज़ तो बड़ा है ही साथ ही लक्ज़री के नाम पर इसमें वह सब कुछ है जो आप सोच सकते हैं. इसमें स्विमिंग पूल है, इसमें किंग साइज़ बेड है, लिविंग रूम है, ड्राईवर से प्राइवेसी है और यहाँ तक कि हेलिपैड भी है. मतलब इस कार के ऊपर हेलीकाप्टर लैंड भी हो सकता है और वहीं से उड़ भी सकता है.

जे ओहरबर्ग ने इस लिमोजिन को एक Cadillac Eldorado कार के ऊपर 1980 के दशक में बनाया था. हालांकि बाद में उन्होंने इसे एक कंपनी को लीज पर दे दिया जिसने इसकी दुर्दशा कर दी. खबर है कि लीज ख़त्म होने के बाद 2014 में इसे वापस ले लिया गया है और यह दुबारा से अपनी उसी रूप में नजर आ सकती है.

ये है दुनिया की सबसे महंगा बाइक ,कीमत 150 लाख से भी अधिक

 
बॉस हॉस कंपनी का दावा है कि इस बाइक में बॉडी स्ट्रक्चर के नाम पर सिर्फ चेसिस है। इसमें सामान्य बाइकों की तरह कोई फ्रेम नहीं है। और इसे बिल्कुल अपनी जरूरत के हिसाब से बदला जा सकता है। इस बाइक की सबसे बड़ी खासियत है इसका इंजन। जो सामान्य बाइक का है ही नहीं, ये तो कार का इंजन है। और जो बाइक आप देख रहे हैं, जिसमें 6400 सीसी का शेरवले कंपनी का टॉप क्लास इंजन लगा है। और यही वजह है कि ये बाइक इतनी महंगी है। और हां, इसे और भी महंगी बना सकते हैं, अगर इसमें कोई और इंजन लगा लें। यही इस बात की खूबी है।
इस बाइक में बॉडी स्ट्रक्चर के नाम पर सिर्फ चेसिस है। इसमें सामान्य बाइकों की तरह कोई फ्रेम नहीं है। और इसे बिल्कुल अपनी जरूरत के हिसाब से बदला जा सकता है। इस बाइक की सबसे बड़ी खासियत है इसका इंजन। जो सामान्य बाइक का है ही नहीं...
 
तस्वीर में दिख रही बॉस हॉस कंपनी की ये बाइक समूचे एशिया में इकलौती है। ये किसी भी अरबपति के घर की शोभा नहीं बढ़ा रही, बल्कि राइडर्ज कंपनी के मालिकाना हक में है। राइडर्ज कंपनी दरअसल, प्रोफेशनल रेसरों की टीम है, जो रेस तो करती ही है, साथ ही बाइकों को असेंबल करके मनचाही ताकत देती है। और रोड सेफ्टी को लेकर कार्यक्रम आयोजित करती है।

इस बाइक में अगर 6400 सीसी का सबसे ज्यादा पॉवर वाला इंजन है, तो इसका वजन भी 1 टन के आसपास है। ये पूरे 940 किलो की है, जो बदलाव के साथ ही बढ़ भी सकती है। वैसे, ये बाइक ऑटो एक्सपो में सिर्फ प्रदर्शनी के लिए ही आई है। क्योंकि राइडर्स कंपनी के पास एक से बढ़कर एक बाइके हैं, जो रेस के लिए उतरती हैं। वो इस बाइक को कभी रेस में भी नहीं उतारते, क्योंकि अगर ये बाइक रेस के लिए उतर जाएगी तो कोई भी रेस बेमानी होगी।
राइडर्ज कंपनी के सह-संस्थापक दिनेश कहते हैं कि बॉस हॉस कंपनी की अलग ही दुनिया है। वो ज्यादा से ज्यादा बाइक बेचकर अपनी मार्केट नहीं बनाना चाहते। बल्कि उनकी कोशिश है, एक्सक्लूसिव बने रहना। यही वजह है कि उन्होंने इस बाइक की 8 या 10 यूनिट ही बाजार में उतारी है और एशिया की इकलौती बाइक उनके पास है।

कीमत के बारे में पूछने पर दिनेश कहते हैं कि इसे मंगाने में 80 हजार डॉलर की कीमत लगती है, तो साथ ही इंपोर्ट टैक्स समेत कई और दिक्कतों से भी गुजरना पड़ा है। उन्होंने बताया कि भारतीय मुद्रा में इस बाइक की कीमत फिलहाल 1.5करोड़ रुपए बैठ रही है, जो इंजन बदलने के साथ ही बढ़ भी जाएगी।

दुनिया के सबसे गरीब राष्ट्रपति के तौर पर जाने जाते हैं जोस मुजीका,विवरण पढ़े -

जोस मुजीका उरुग्वे के राष्ट्रपति हैं लेकिन उन्हें देखकर किसी को भी ये विश्वास नहीं होता. वजह साफ़ है वो एक गरीब किसान की तरह अपना जीवन जीते हैं.

एक फार्म हाउस में तीन टांग के अपने कुत्ते की रखवाली के भरोसे मुजीका अपना जीवन गुज़ार रहे हैं जो किसी भी राष्ट्रप्रमुख के लिए लगभग असंभव है.

एक पंक्ति में कहें तो, उनकी जीवन शैली कुछ इस प्रकार है, एक जीर्ण-शीर्ण फार्म हाउस में वो निहायत कम सुविधाओं के साथ रहते हैं, जहां कुएं से पानी भरा जाता है और कपड़े भी बाहर खुले में ले जाते हैं.

मुजीका राष्ट्रपति हैं लिहाज़ा सुरक्षा के नाम पर उन्हें दो पुलिस अधिकारी मिले हैं और निजी स्तर पर वो मनुएला नाम का एक कुत्ता अपने साथ रखते हैं.

ऐसा नहीं है कि उरुग्वे में राष्ट्रपति को सुविधाओं के नाम पर कुछ दिया नहीं जाता बल्कि, जोस खुद अपनी मर्जी से इस तरह से रहते हैं.
उन्होंने, उरुग्वे की तरफ से दिए गए आलीशान घर को नकार कर अपनी पत्नी के छोटे से फार्म हाउस में रहना पसंद किया जो राजधानी मोनतेविडियो के पास है.

जोस अपनी पत्नी के साथ इस फार्म हाउस में रहते हैं और फूलों की खेती भी करते हैं.

वो कहते हैं, “मुमकिन है मैं पागल और सनकी दिखता हूं लेकिन ये तो अपने-अपने ख्याल हैं.”

जोस जो बोलते हैं उसे हूबहू अपनाने में विश्वास रखते हैं.
जोस, अपनी तनख्वाह का 90 फीसद दान कर देते हैं जो तकरीबन 12 हजार डॉलर के आस-पास है.

अपने वेतन से 775 डॉलर वो उरुग्वे के गरीब और छोटे उद्दमियों को दान कर देते हैं.
फार्म हाउस में पुरानी सी कुर्सी पर बैठे जोस कहते हैं, “मेरे पास जो भी है मैं उसमें जीवन गुजार सकता हूं.”

जोस 'क्यूबा क्रांति' से निकले हुए नेता हैं और 2009 में उरुग्वे के राष्ट्रपति चुने गए.